हेलो, reders स्वागत हैं “profitsandhealth.com” में आज मैं इस आर्टिकल में tulsi ka fayda के बारे में बताने जा रहे है इस लेख में मैने जो भी लिखा है वो सब अपने पर्सनल व्यू से, तो चलिए जानते है कि क्या है tulsi ka फायदा, ये सब जानने के लिए ये आर्टिकल को पूरा पढ़े।

tulsi ka fayda शरीर के लिए संजीवनी की तरह काम करता है।

Image result for holy basil photo

इस लेख में tulsi ka fayda के साथ साथ ये भी बताने जा रहे है कि तुलसी किस किस बीमारी को दूर करता है tulsi को होली बासिल भी काहा जाता है इसका सबसे ज्यादा इस्तेमाल मेडिकल में होता है। तुलसी शरीर के लिए टॉनिक की तरह काम करता है वैसे tulsi ka fayda तो अनेकों लेकिन में तुलसी के फायदे और नुकसान दोनों ही होते है। तुलसी के फायदे तो अनेकों है लेकिन कहीं कहीं इसका नुकसान भी होता है तो चलिए जानते है कि tulsi ka fayda किस किस बीमारी को दूर करने में सफल होता है जैसे कि

1. तुलसी ब्रेन फंक्शन को इंप्रूव करता है।

2. तुलसी स्किन हैल्थ को भी ठीक रखता है।

3. तुलसी मधुमेह के बीमारी में भी मदद करता है।

4. तुलसी वजन कम करने में भी मदद करता है।

5. तुलसी बुखार में भी काफी मदद करता है।

6. तुलसी दिमाग के stress को कम करता है।

7. तुलसी body के Metabolism को इंप्रूव करता है।

8. तुलसी kidney के दर्द में काम करता है।

9. तुलसी  hair और skin को मजबूत करता है।

10. तुलसी sleep issuse में भी मदद करता है।

तुलसी का रोजाना इस्तेमाल करने से इन सारे बीमारी से निजात पाया जा सकता है लेकिन इसका इस्तेमाल नियमित रूप से करने से ही Tulsi ka fayda का लाभ उठाया जा सकता है। इसका इस्तेमाल करना बिल्कुल ही आसान है। इसको सुबह खाली पेट लिया जा सकता है इसका रोजाना नियमित रूप से सेवन करने से काफी लाभ मिलता है। इसका उपयोग तुलसी की चाय के रूप में भी किया जाता है इसके रोजाना इस्तेमाल से वजन भी कम होने लगता है। इस भी पढ़े(वजन होगा गायब कम कैलोरी वाले आहार के इस्तेमाल से)

इसको सुबह चाय की जगह tulsi green tea को लेकर शरीर को काफी हद तक ठीक रखा जा सकता है। भारतीय संस्कृति में इसका काफी इस्तेमाल किया जाता है तुलसी के plant पौधा को भगवान और देवी के रूप माना जाता है और इनका पूजा अर्चना भी किया जाता है इनका स्तंभ हर घर के आंगन होता है और हिन्दू धर्म में इनका काफी श्रद्धा से पूजा किया जाता है।और तुलसी के पौधे को शाम को दीपक भी जलया जाता है तुलसी को लक्ष्मी के प्रतीक भी माना जाता है।

तुलसी के पास स्ट्रेस रिलेविंग प्रॉपर्टीज और डाइजेस्टिव पाया जाता है जिससे ये कई बीमारी से करने की छमता को बढ़ता है। तुलसी के पास anti oxidantऔर inflammatory प्रॉपर्टीज भी पाया जाता है ये डायबिटीज के बीमारी में काफी मदद करता है

यहां, हम जनेगे की tulsi ka fayda क्या है और ये किन किन बीमारी को दूर करता हैं और ये शरीर के लिए कैसे संजीवनी का काम करता है।

Image result for holy basil photo

1. तुलसी के इस्तेमाल से mind के stress कम होता है।

तुलसी ग्रीन टी का इस्तेमाल नियमित रूप से करने से इसका डायरेक्ट फायदा स्ट्रेस हार्मोन पे होता है ये स्ट्रेस हार्मोन के लेवल को कम और मेंटेन करने में मदद करता है। और बॉडी को काफी स्वस्थ और फ्रेश करता है

2. तुलसी के इस्तेमाल से body में मेटाबॉलिज्म को improve करता है।

Tulsi ka fayda तब काम करता जब इसका सेवन नियमित रूप से किया जाए अगर इसका इस्तेमाल रोजाना खाली पेट तुलसी के 4-5 पते खा कर पानी पी ले ऐसे 10-15 दिन रोजाना सुबह करने से extra fats को ख़तम करने में काफी मदद करता है और इसके इस्तेमाल से body में metabolism को improve करता है और लिपिड को भी ब्रेक डाउन करता है।

Image result for holy basil juice photo

3. तुलसी के इस्तेमाल से बॉडी में किडनी स्टोन को गला या खत्म कर देता है।

तुलसी ग्रीन टी का सुबह में रोजाना इस्तेमाल करने से सिस्टम में uric एसिड को reducees करता है और तुलसी शरीर से टॉक्सीन को बचाने में भी मदद करता है।और तुलसी किडनी दर्द में भी मदद करता है। इसके नियमित रूप से इस्तेमाल करने से शरीर हमेशा स्वस्थ रहता है।

4. तुलसी के इस्तेमाल से hair और skin मजबूत होता है।

तुलसी ग्रीन टी का मैन रोल healthy स्किन बनाना होता है और ये hair fall में भी काफी हेल्प करता है। और इसके इस्तेमाल से स्किन के ट्रीटमेंट और hair के डिसऑर्डर्स में भी काफी मदद करता है।इसलिए इसका रोजाना सुबह सेवन कीजिए और स्वस्थ शरीर बनाइए।

5. तुलसी के इस्तेमाल से sleep issue को ठीक करता है।

Tulsi ka fayda बहुत सारे बीमारी को दूर करने के लिए संजीवनी की तरह काम करता है शरीर को पूरी तरह ठीक करने में इसका बहुत बड़ा हाथ होता है tulsi ka fayda उनलोगो को होता है जिन लोगो को रात में अच्छी नींद नहीं आती। पर तुलसी के नियमित रूप से सेवन करने से ये बीमारी भी गायब हो जाती है। अच्छी नींद नहीं आने के कारण क्रोनिक स्ट्रेस भी होता है जब बॉडी क्रोनिक स्ट्रेस में होता है तो अच्छी नींद नहीं आती जिसके चलते रात म अच्छी नींद नहीं आती लेकिन तुलसी के पास छमता होता है कि ये metabolic system को stable कर पाए।जिससे स्ट्रेस भी कम होने लगता है और अच्छी नींद भी आने लगती है। और रात में peacefully नींद आने लगती है। और पूरा नींद आने से mind भी फ्रेश रहता है। इसलिए तुलसी का इस्तेमाल करके शरीर को स्वस्थ बनाए जा सकता है।

6. तुलसी के इस्तेमाल से मधुमेह के बीमारी को control करने में मदद करता है।

 तुलसी के इस्तेमाल से ये pancreas को स्टिमुलेट करने में काफी मदद करता है। और तुलसी बहुत ही आसानी से इन्सुलिन रेजिस्टेंस को कम करने में भी मदद करता है। और तुलसी के इस्तेमाल से बॉडी शरीर के ब्लड सुगर लेवल को भी मेनटेन करता है और मधुमेह के हाई रिस्क में भी मदद करता है। तुलसी को एक ट्रेडिशनल की तरह भी इस्तेमाल  है।

7. तुलसी के इस्तेमाल (fever) बुखार में भी किया जाता है।

tulsi ka fayda बुखार (fever) में भी काफी देखने को मिलता है इसके इस्तेमाल से शरीर के ताप को कम करता है और बुखार में आराम मिलने लगता है इसका इस्तेमाल green tea के रूप में किया जाता है इसको तुलसी कारहा भी कहा जाता है इसका इस्तेमाल भी बहुत ही आसानी से किया जा सकता है सुबह में इसका इस्तेमाल चाय के जगह tulsi green tea को लिया जा सकता है 2-3 दिन रोजाना इस्तेमाल करने से बुखार में काफी आराम मिल जाता है।और तुलसी ग्रीन टी को रोजाना लेकर स्वस्थ शरीर बनाया जा सकता है।

तुलसी ग्रीन टी किस तरह बनाए। बनाने की विधि (Tulsi green tea)

समग्री ग्लास के लिए।

1 स्प्रिंग बसिल (spring Basil)
1/2 चमच जिंजर (teaspoon ginger)
5   बूंद  honey
1  dash लेमन रस (lemon juice)
1/4 चमच ग्रीन कारदामून (teaspoon green cardamon)
3 कप पानी (cup water)

Image result for holy basil juice photo

Step 1

सबसे पहले सब सामग्री को लेना है और तीन कप पानी उसमे मिलना है।

Step 2

उसके बाद उसने तुलसी के पते और chopped जिंजर को मिलना है उसके बाद cardamon को मिलना है और फिर 10 मिनट तक बॉयल करना है।

Step 3

उसके बाद gas को बंद करने अच्छा से strain करे और उसके बाद लेमन जूस के साथ serve कर सकते है।

thank you……………धन्यवाद………………


admin

Helo, my name is riku shukla. I m from bihar, I m completed B.tech from maharastra University.

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by WordPlace